शहर की संस्थाओं के दावे खोखले ,,,,,,एसडीम को मांग पत्र देने के बावजूद भी शहर की गौशाला कमेटियों के सिर पर नहीं सरकेगी जू शहर में करीब 20 गायों की हो चुकी है सड़क दुर्घटनाओं में मौत रावलपिंडी गौशाला के पास 47 खेत जमीन गौशाला कमेटीया एक भी गाय संभालने को तैयार नहीं

शहर की संस्थाओं के दावे खोखले ,,,,,,एसडीम को मांग पत्र देने के बावजूद भी शहर की गौशाला कमेटियों के सिर पर नहीं सरकेगी जू शहर में करीब 20 गायों की हो चुकी है सड़क दुर्घटनाओं में मौत रावलपिंडी गौशाला के पास 47 खेत जमीन गौशाला कमेटीया एक भी गाय संभालने को तैयार नहीं

फगवाड़ा ,,,,ऑल इंडिया कंज्यूमर प्रोटक्शन द्वारा मांग पत्र देने के बावजूद भी किसी भी गौशाला कमेटी के प्रधानों के कानों पर जू सरकने वाली नहीं है आवारा गायों को ना रखने के गौशाला कमेटी के प्रधानों के पास तरह-तरह तरह के बहाने है रावलपिंडी गौशाला में 47 खेत होने के बावजूद भी कमेटी एक भी आवारा गाय संभालने के लिए तैयार नहीं है बताया जा रहा है कि इस गौशाला में सिर्फ दूध देने वाली 200 गायों का पालन पोषण इसलिए होता है कि दूध बेचकर गौशाला को आमदन होती है लेकिन इनके साथ साथ गोशाला कमेटी 65 लाख के विकास का दावा करती है  आवारा गाय सड़कों पर मरने के लिए मजबूर हो चुकी है गो सेंस लेने के बाद भी सरकार इन आवारा गायों की कोई संभाल नहीं करती गाय खुद तो मर रही है लेकिन इनके साथ कई इंसानी जिंदगीया तबाह हो चुकी है गौरतलब है कि ऑल इंडिया कंजूमर प्रोटेक्शन ने आवारा गायों को संभालने हेतु एसएम को मांग पत्र दिया लेकिन आवारा गायों को संभालना बहुत ही मुश्किल है क्योंकि गौशाला कमेटी के द्वारा किए आवारा गायों को संभालने हेतु कई बहाने बनाए जा रहे हैं सारी डोर नगर निगम पर छोड़ दी जाती है शहर में सड़कों पर दुर्घटनाओं से 20 के करीब गाय मर चुकी है लेकिन ना तो सरकार ने आज तक कोई सुध ली और ना ही किसी गौशाला कमेटी ने और ना ही शहर में कोई ऐसी संस्था है जिसने गौशाला कमेटियों से गायों की हो रही इन दयनीय हालत सबधी कोई बात की हो अब देखना है कि कंजूमर प्रोटेक्शन संस्था किस तरह इन गौशाला कमेटियों और सरकार पर का शिकंजा कसती है


Sep 17 2019 11:09AM
शहर की संस्थाओं के दावे खोखले ,,,,,,एसडीम को मांग पत्र देने के बावजूद भी शहर की गौशाला कमेटियों के सिर पर नहीं सरकेगी जू शहर में करीब 20 गायों की हो चुकी है सड़क दुर्घटनाओं में मौत रावलपिंडी गौशाला के पास 47 खेत जमीन गौशाला कमेटीया एक भी गाय संभालने को तैयार नहीं
Source: Phagwara Express News
website company in Phagwara
website company in Phagwara

Leave a comment





Latest post